गजब! तीन बहनों ने एक साथ पास की RAS परीक्षा, दो बहनें पहले से हैं अधिकारी

RPSC Result 2021: राजस्थान के हनुमानगढ़ की तीन बहनों ने राज्य की प्रशासनिक परीक्षा पास की है। उनकी दो अन्य बहन पहले से ही आरएएस अधिकारी हैं। आरएएस में सलेक्ट होने वाली इन तीन बहनों के नाम ऋतु, अंशु और सुमन सहारण हैं। तीनों ने साल 2018 की आरएएस परीक्षा दी थी। इनके अलावा राजस्थान के जोधपुर जिले की सड़कों पर झाड़ू लगाने वाली नगर निगम कर्मचारी आशा कंडारा का चयन भी आरएएस 2018 में हुआ है। RAS 2018 का फाइनल रिजल्ट 13 जुलाई रात करीब साढ़े ग्यारह बजे जारी किया गया था। परिणाम के बाद तीनों बहनों की खुशी का ठिकाना न रहा।

ऋतु, अंशु और सुमन की दो बड़ी बहनें पहले ही आरएएस चयनित हो चुकी हैं। इनमें मंजू कॉपरेटिव इंस्पेक्टर है तथा रोमा बीडीओ के रूप में सुजानगढ़ में नियुक्त है। तीनों बहनों के सलेक्ट होने की खबर को भारतीय वन सेवा (IFS) के अधिकारी प्रवीण कस्वां ने ट्विटर पर खबर साझा की और तीनों बहनों को बधाई दी। उन्होंने तीनों बहनों की एक फोटो भी शेयर की।

यह तीनों बहनें हनुमानगढ़ के भैरूसरी गांव में रहती हैं। अंशु ओबीसी गर्ल्स 31, रीतू 96 एवं सुमन ने 98 वीं रैंक हासिल की है। सबसे बड़ी बहन मंजू सहारण का चयन 2012 में सहकारिता विभाग में हुआ। वहीं, 11 साल पहले रोमा सहारण का आरएएस में चयन हुआ, जो झुंझुनूं के सूरजगढ़ में बीडीओ के पद पर कार्यरत हैं।

जोधपुर नगर निगम में झाड़ू लगाने वाली सफाईकर्मी आशा कंडारा अब आरएएस अधिकारी बन गई हैं। राजस्थान प्रशासनिक सेवा में आरएएस 2018 में आशा का चयन अब हो गया है। अब वो अनुसूचित वर्ग से आधिकारी के पद पर काबिज होंगी। नगर निगम में झाड़ू लगाती थी। मगर सफाई कर्मचारी के रूप में नियमित नियुक्ति नहीं मिल पा रही थी। इसके लिए उन्होंने 2 साल तक नगर निगम से लड़ाई लड़ीं। कुछ दिन पहले ही उन्हें नगर निगम में सफाई कर्मचारी के रूप में नियमित नियुक्ति मिली थी। अब राज्य प्रशासनिक सेवा में भी चयन हो गया है।




.