जानिए कब से शुरू हो सकते हैं आवेदन, देखें परीक्षा से जुड़ी अहम जानकारी

NTA NEET 2021: देश में यूजी चिकित्सा और संबंधित कार्यक्रमों में एडमिशन के लिए नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट अंडर ग्रेजुएट (NEET UG) प्रवेश परीक्षा आयोजित कराई जाती है । अभी NEET 2021 के एप्लीकेशन फॉर्म की तारीख की घोषणा की जानी बाकी है। घोषणा के बाद उम्मीदवार नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ntaneet.nic.in की वेबसाइट पर एप्लीकेशन प्रक्रिया के बारे में जानकारी जुटा सकते हैं।

NEET की परीक्षा देश के विभिन्न केंद्रों पर ऑफलाइन मोड में आयोजित कराई जाती हैं। इस साल यह परीक्षा 1 अगस्त को आयोजित कराई जाएगी। आवेदकों की संख्या के हिसाब से यह देश की सबसे बड़ी प्रवेश परीक्षाओं में से एक है। हर साल, 15 लाख से अधिक मेडिकल उम्मीदवार NEET के लिए उपस्थित होते हैं।

NEET के आवेदन प्रक्रिया में पांच चरण होते हैं – सबसे पहले NEET रजिस्ट्रेशन, फिर आवेदन भरना, स्कैन किए गए फोटोग्राफ, मार्कशीट और सर्टिफिकेट अपलोड करना और आखिर में फीस जमा करके कंफर्मेशन पेज प्रिंट करना।

एनटीए की घोषणा के अनुसार, इस साल नीट स्कोर बीएससी नर्सिंग और लाइफ साइंसेज कार्यक्रमों में छात्रों को प्रवेश देने के लिए भी इस्तेमाल किया जाएगा।

एनपीए की आधिकारिक सूचना के अनुसार, “एनईईटी (यूजी) – 2021 के परिणाम का उपयोग केंद्र / राज्य सरकारों की अन्य संस्थाओं (भारतीय नर्सिंग काउंसिल / नर्सिंग कॉलेजों / स्कूलों, जेआईपीएमईआर सहित) द्वारा उनके नियमों / मानदंडों / दिशानिर्देशों के अनुसार संबंधित कोर्स [बी.एससी (नर्सिंग) और बी.एससी. (लाइफ साइंस)]में एडमिशन और काउंसलिंग के लिए किया जा सकता है”

NEET सिलेबस की बात करें तो शिक्षा मंत्रालय ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि बोर्ड परीक्षा के पाठ्यक्रम में कटौती के बावजूद भी मेडिकल प्रवेश परीक्षा NEET, एनटीए के द्वारा निर्धारित पाठ्यक्रम के आधार पर ही आयोजित की जाएगी।

मंत्रालय के आधिकारिक बयान के अनुसार, “NEET (UG) 2021 के लिए फाइनल पैटर्न की घोषणा की जानी बाकी है। हालांकि, देश भर के कुछ बोर्ड द्वारा पाठ्यक्रम में कटौती को देखते हुए, NEET (UG) 2021 के प्रश्न पत्र में भी JEE Mains की तरह विकल्प होंगे।” वर्तमान NEET पेपर पेटर्न की बात करें तो इस परीक्षा में कुल 720 नंबर के 180 सवाल पूछे जाते हैं।

पिछले साल, कोविड-19‌ के बीच 13 सितंबर और 14 अक्टूबर को NEET 2020 का आयोजन किया गया था। मेडिकल उम्मीदवारों को परीक्षा के दौरान सार्वजनिक परिवहन के अभाव में परीक्षा केंद्रों की यात्रा करने, ग्लव्स और मास्क पहनने जैसी कई समस्याओं का सामना करना पड़ा था। इस साल भी कोविड-19 की वजह से समान स्थिति बनी हुई है।

परीक्षा के तरीके को लेकर काफी असमंजस के बाद NEET 2020 की तारीखों की घोषणा 5 मई को की गई थी। बढ़ते कोरोना मामलों के कारण NEET 2020 को रद्द करने की भी बात चल रही थी लेकिन उम्मीदवारों के मांग पर सरकार ने आखिरकार तारीखों की घोषणा कर दी थी।




.