बिहार में 30,000 से ज्यादा पदों पर नियुक्ति, स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कैसे भरे जाएंगे पद

बिहार में 30,000 से ज्यादा पदों पर नौकरियां आने वाली हैं। यह नौकरियां स्वास्थ्य विभाग में हैं। बिहार के स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना को देखते हुए अलग अलग जगहों पर खाली पड़े पदों को भरने के लिए एक योजना बनाई है। साल 2021-22 में स्वास्थ्य विभाग में लगभग 30 हजार से ज्यादा भर्तियां अलग अलग पदों पर की जाएंगी। इस भर्ती प्रक्रिया से 6,338 पद विशेषज्ञ और जनरल डॉक्टर्स के भरे जाएंगे। इसके अलावा 3,270 पद आयुष डॉक्टरों के भरे जाने हैं। जीएनएम के 6,671 पद भरे जाने हैं। इसके साथ ही 9,233 एएनएम के पदों को 15 सितंबर तक भरने का निर्देश दिया गया है।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना की तीसरी लहर को ध्यान में रखते हुए मुख्य सचिव समेत उच्चाधिकारियों के साथ मीटिंग की। स्वास्थ्य मंत्री के मुताबिक अलग अलग स्तरों पर समीक्षा करते हुए आने वाले समय के लिए तैयारी की जा रही है। बिहार में जो 6338 डॉक्टर्स के पदों पर भर्ती होनी है वह बिना एग्जाम के की जाएगी। इसके लिए सीधे इंटरव्यू होना है। इसके लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख 24 मई 2021 थी। इसमें कुल 3706 विशेषज्ञ चिकित्सा अधिकारी (SMO) और 2632 सामान्य चिकित्सा अधिकारी (GMO) की नियुक्ति की जाएगी। योग्य उम्मीदवारों को चयन बिना किसी परीक्षा के डायरेक्ट किया जाएगा। नौकरी के लिए एमबीबीएस – 60 मार्क्स, पोस्टग्रेजुएशन – 15 मार्क्स और अनुभव के 25 अंक जोड़े जाएंगे।

बिहार स्वास्थ्य विभाग जूनियर डॉक्टर वैकेंसी 2021 के लिए ऑनलाइन आवेदन की शुरुआत 15 मई 2021 से हुई थी। कुल 1430 पदों पर ये भर्तियां होनी हैं। पे-स्केल 65000 रुपये प्रति माह के अनुसार अन्य भत्तों सहित अच्छी सैलरी मिलेगी। इसके लिए भी आवेदन करने की आखिरी तारीख 24 मई थी। इसके तहत मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (MCI) द्वारा मान्यता प्राप्त संस्थान से एमबीबीएस की डिग्री। पुरुषों के लिए उम्र सीमा अधिकतम 37 साल और महिलाओं के लिए 40 साल होनी चाहिए।




.