बी.एड परीक्षा की कर रहे हैं तैयारी, यहां देखें नया सिलेब्स और एग्जाम पैटर्न

UP BEd JEE 2021: यूपी बीएड जेईई 2021 के रजिस्ट्रेशन खत्म होने के साथ, तैयारी कर रहे छात्रों को नए परीक्षा पैटर्न के साथ परीक्षा की तैयारी करने की जरुरत है। कोरोना संक्रमण के चलते लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा UP BEd JEE 2021 की परीक्षा रद्द कर दी गयी है। पहले यह परीक्षा 19 मई 2021 को होनी थी। यूनिवर्सिटी जल्द ही अपनी वेबसाइट  www.lkouniv.ac.in  पर दोबारा से तय की गयी तारीखों को अपलोड करेगी।

जब तक UP BEd JEE 2021 परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी नही हो जाता,तब तक परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्र नए सिलेब्स और पैटर्न को ठीक से समझें। परीक्षा की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स इस समय का भरपूर उपयोग करें। यूपी बीएड जेईई 2021 परीक्षा के रजिस्ट्रेशन के बाद परीक्षार्थियों को अब नए पैटर्न और सिलेब्स पर ध्यान केंद्रित करते हुए परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए।

UP BEd JEE 2021 के नए परीक्षा पैटर्न के हिसाब से परीक्षा में दो पेपर होते हैं। पेपर 1 जिसमें सामान्य ज्ञान और हिंदी/अंग्रेजी से 50-50 प्रश्न होते हैं। इसी तरह, पेपर 2 में जनरल एप्टीट्यूड टेस्ट और प्रोफेशनल सब्जेक्ट से 50-50 सवाल होते है। प्रश्न पत्र में सिर्फ मल्टीपल चॉइस सवाल ही पूछे जाते हैं। परीक्षा पैटर्न को समझने के लिए स्टूडेंट्स को यह सलाह दी जाती है कि वह यूपी बीएड जेईई के बीते वर्षों के प्रश्न पत्रों और मॉक टेस्ट पेपरर्स को हल करें।

यूनिवर्सिटी ने बीएड जेईई परीक्षा के पेपर 1 और पेपर 2 में हर सब्जेक्ट के लिए सिलेब्स तय कर दिया है। सामान्य ज्ञान में इतिहास, खेल, राजनीति, भूगोल, करेंट अफेयर्स से सवाल पूछे जाते हैं। जनरल एप्टीट्यूड पेपर में रीजनिंग,कोडिंग डिकोडिंग,रक्त संबंध,समय और दूरी,संख्या,प्रतिशत,औसत आदि विषयों से सवाल किए जाते हैं।

अंग्रेजी के सिलेब्स में रीडिंग कॉम्प्रीहेंशन,टेंस,एक्टिव-पैसिव वॉयस,मुहावरे और वाक्यांश, विलोम और पर्यायवाची आदि से सवाल पूछे जाते हैं। सिलेब्स को जानने के बाद परीक्षार्थियों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उन्हें हर विषय की पूरी जानकारी हो। बीएड जेईई परीक्षा में टॉप करने के लिए चार विषयों से 50-50 सवाल पूछे जाएंगे,उनमें से 45 सवालों के सही जवाब देने होंगे। परीक्षार्थियों को प्रत्येक पेपर के लिए 3 घंटे का समय दिया जाएगा, उन्हें 180 मिनट के अंदर 100 प्रश्नों का उत्तर देना होगा।

परीक्षार्थियों को रेगुलर रिवीज़न और प्रैक्टिस पेपर सॉल्व करते रहना चाहिए। तैयारी के रुप में महत्वपूर्ण डेट्स और फैकट्स को रोज़ाना रिवाइज करते रहना चाहिए। नई परीक्षा की तिथि का इंतजार करते हुए स्टूडेंट्स को शॉट नोट्स बनाना सीख लेना चाहिए।

स्टूडेंट्स को ऑफिशियल साइट पर रेगुलर चेक करने से परीक्षा से जुड़ी हर जानकारी मिल जाएगी। यूपी बीएड जेईई परीक्षा की तैयारी करने का सबसे अच्छा तरीका है कि रोज बीते वर्षों का प्रश्न पत्र सॉल्व करें। बीते वर्षों के दोहराए सवालों की एक सूची बनाएं और उन्हें अच्छे से तैयार करें।




.