यहां पढ़ें यूपीएससी परीक्षा में टॉप करने वाले प्रदीप सिंह की कहानी

UPSC: यहां हम आपको एक ऐसे व्यक्ति की कहानी बताने जा रहे हैं, जो यूपीएससी परीक्षा के पहले दो प्रयासो में असफल रहे लेकिन अपने चौथे प्रयास में उन्होंने परीक्षा में टॉप करके दिखाया। उन्होंने यह मुकाम परिवार के सहयोग और अपने दृढ़ निश्चय के बल पर हासिल किया है।

सोनीपत हरियाणा के रहने वाले प्रदीप सिंह ने कक्षा 7 तक की शिक्षा तेवरी गांव के एक सरकारी स्कूल से प्राप्त की है। इसके बाद उन्होंने सोनीपत के ही शंभू दयाल मॉडर्न स्कूल से कक्षा 12 तक की पढ़ाई की है। फिर उन्होंने दीनबंधु छोटू राम यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है। ग्रेजुएशन के दौरान प्रदीप एसएससी की भी तैयारी कर रहे थे। यह परीक्षा क्लियर करने के बाद उन्हें दिल्ली में बतौर इनकम टैक्स ऑफिसर नियुक्त किया गया था। यहां उन्होंने लगभग 4 साल काम किया और इस बीच उन्होंने यूपीएससी की तैयारी करने का मन बना लिया था।

प्रदीप ने अपनी नौकरी के साथ ही यूपीएससी की तैयारी का फैसला किया। इस वजह से उन्हें बहुत सारी कठिनाइयों का सामना भी करना पड़ा लेकिन उनके परिवार और दोस्तों ने प्रदीप का भरपूर सहयोग किया। प्रदीप यूपीएससी के पहले दो प्रयासों में प्रीलिम्स भी क्लियर करने में असफल रहे। अपने तीसरे प्रयास में प्रदीप ने यूपीएससी परीक्षा में 260वीं रैंक हासिल की और इसके बाद इंडियन रिवेन्यू सर्विस के लिए उनकी ट्रेनिंग शुरू हो गई। फिर साल 2019 में प्रदीप ने चौथा अटेम्प्ट दिया और इस बार वह ऑल इंडिया टॉपर बने।

प्रदीप कहते हैं कि यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी के लिए मेहनत के साथ ही धैर्य रखना भी आवश्यक है। वह बताते हैं कि यूपीएससी परीक्षा की तैयारी के लिए प्रीलिम्स, मेन्स और इंटरव्यू तीनों की अलग तैयारी करनी चाहिए। शुरुआती तैयारी के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि आप अपना बेसिक्स मजबूत रखें। वह कहते हैं कि अगर आप 1 साल का समय लेकर चल रहे हैं तो पहले प्रीलिम्स का कुछ हिस्सा समझने के बाद फिर मेन्स परीक्षा की तैयारी करें और सिलेबस खत्म करने के बाद आंसर राइटिंग की प्रैक्टिस ज़रूर करें क्योंकि प्रीलिम्स परीक्षा के बाद मेन्स की तैयारी के लिए ज्यादा समय नहीं बच पाता है। मेन्स की तैयारी के बाद वापस प्री की तैयारी करें और बीच-बीच में मेन्स भी देखते रहे और आखिर समय में केवल प्रीलिम्स की तैयारी करें। प्रदीप का मानना है कि मेन्स परीक्षा के लिए ज्यादा फोकस आंसर राइटिंग पर करना चाहिए। इंटरव्यू के लिए वह करंट अफेयर्स को अच्छे से तैयार करने पर जोर देते हैं।




.