यहां पढ़ें यूपी के नए डीजीपी मुकुल गोयल की कहानी

UP DGP Mukul Goel: मुकुल गोयल 1987 बैच के एक IPS अधिकारी हैं, जिन्हें अब उत्तर प्रदेश के डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस पद के लिए चुना गया है। उनका कार्यकाल ढाई साल के लिए होगा और वह फरवरी 2024 में रिटायर होंगे। फिलहाल मुकुल गोयल चंडीगढ़ में सीमा सुरक्षा बल में बतौर ADG के पद पर तैनात हैं। यहां हम आपको मुकुल गोयल से जुड़ी कुछ खास जानकारी बताएंगे।

मुकुल गोयल का जन्म उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में 22 फरवरी 1964 को हुआ था। मुजफ्फरनगर के रहने वाले मुकुल गोयल ने ‌IIT दिल्ली से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में B.Tech किया है। इसके अलावा उन्होंने MBA की डिग्री भी हासिल की है। मुकुल गोयल ने फ्रेंच‌ भाषा में सर्टिफिकेट और डिजास्टर मैनेजमेंट में डिप्लोमा भी प्राप्त किया है।

मुकुल गोयल 1987 बैच के एक IPS अधिकारी हैं। उन्होंने अल्मोड़ा, जालौन, मैनपुरी, हाथरस, आजमगढ़, गोरखपुर, ‌ वाराणसी, सहारनपुर और मेरठ में बतौर SP/SSP काम किया है। फिर साल 2004 में प्रमोशन होने के बाद उन्होंने कानपुर, आगरा और बरेली में DIG का पद भी संभाला है। इसके बाद साल 2009 से साल 2012 तक उन्होंने एनडीआरफ और सिविल डिफेंस में IG के रूप में काम किया है। साल 2013 में उन्हें ADG पद पर प्रमोट कर दिया गया था। मुकुल गोयल उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव की सरकार में ADG लॉ एंड ऑर्डर के पद पर भी रहे हैं।इसके साथ वह आइटीबीपी और बीएसएफ में भी बड़े पदों पर रह चुके हैं। वर्तमान में मुकुल गोयल बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स में ADG का पद संभाल रहे हैं।

बता दें कि साल‌ 2003 में मुकुल गोयल को अपने काम के लिए पुलिस पदक भी मिल चुका है। इसके अलावा साल 2012 में उन्हें राष्ट्रपति गैलंट्री अवॉर्ड से भी नवाजा जा चुका है। वहीं, साल 2020 में मुकुल गोयल को केंद्रीय गृहमंत्री के अतिउत्कृष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया जा चुका है।




.