यूपीएससी टॉपर सौम्या ने इस तरह से की थी परीक्षा की तैयारी

UPSC: यहां हम आपको प्रयागराज की रहने वाली सौम्या पाण्डेय के बारे में बताएंगे जिन्होंने महज़ 23 साल की उम्र में यूपीएससी परीक्षा में चौथी रैंक हासिल कर अपने माता-पिता का नाम रोशन किया था। सौम्या ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा प्रयागराज से ही प्राप्त की है। वह बचपन से ही पढ़ाई में काफी तेज थीं। उन्होंने कक्षा 10 में 98% अंक प्राप्त किए थे, जबकि कक्षा 12 में 97.8% अंक प्राप्त कर टॉप किया था। इसके बाद उन्होंने मोतीलाल नेहरू नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन पूरा किया है। ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद उन्होंने एक साल यूपीएससी परीक्षा की तैयारी की थी। फिर साल 2016 में पहली बार यूपीएससी की परीक्षा दी और केवल 23 साल की उम्र में ही इस परीक्षा को न केवल पास किया बल्कि चौथी रैंक भी हासिल की थी।

यूपीएससी परीक्षा के लिए सौम्या का कहना है कि प्रीलिम्स में सबसे पहले केवल वही सवाल करें जो आपको अच्छे से आता है। इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन होने की वजह से सौम्या को CSAT के लिए ज़्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ी थी। इंग्लिश कंप्रीहेंशन की तैयारी भी उन्होंने परीक्षा के कुछ दिन पहले ही शुरू की थी। वहीं, GS Paper -I के लिए उन्होंने कक्षा 6 से कक्षा 12 तब की एनसीईआरटी का सहारा लिया था।

UPSC: कभी कक्षा 6 में फेल हुई थीं रुकमणी, अब यूपीएससी परीक्षा पास कर बन गई हैं आईएएस

यूपीएससी मेन्स परीक्षा के लिए सौम्या ने एनसीईआरटी, योजना और कुरुक्षेत्र जैसी मैगज़ीन, द हिंदू अखबार और कुछ स्टैंडर्ड बुक के माध्यम से तैयारी की थी। उन्होंने हिस्ट्री के लिए बिपिन चंद्र की किताब, इंडियन पाॅलिटी के लिए लक्ष्मीकांत और इंडियन आर्ट एंड कल्चर के लिए नितिन सिंघानिया की किताबें पढ़ी थी। इसके अलावा सौम्या हर 15-20 दिनों में समसामयिक विषयों पर निबंध लिखने का अभ्यास किया करती थीं।

इंटरव्यू के लिए सौम्या कहती हैं कि उम्मीदवारों को अपना DAF बहुत ही ध्यान से भरना चाहिए क्योंकि यूपीएससी बोर्ड द्वारा इससे सवाल अवश्य पूछा जाता है। साथ ही इंटरव्यू में आपसे आपके होमटाउन, शौक और पुरस्कारों के बारे में भी सवाल पूछा जा सकता है। इंटरव्यू में आपका जवाब संतुलित और तर्कसंगत होना चाहिए। इसके अलावा करंट अफेयर आधारित और स्थिति आधारित सवाल भी पूछ सकते हैं इसलिए पहले से ही इंटरव्यू की तैयारी ज़रूर करें।




.