यूपी में ग्रुप सी के 50,000 से ज्यादा पदों पर होनी है भर्ती, कैंडिडेट्स को इसका है इंतजार

यूपी में ग्रुप सी के 50 हजार से अधिक पदों पर भर्ती होनी है, लेकिन इस पर कोरोना के कारण इस भर्ती के अभी होने के कोई आसार नहीं दिखाई दे रहे हैं। कोरोना के कारण भर्तियां शुरू नहीं हो पा रही हैं। उत्तर प्रधेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यूपीएसएसएससी) तमाम कोशिशों के बावजूद भी इन भर्तियों को शुरू नहीं कर पा रहा है। कोरोना के मामले कम होने के बाद अगर भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाती है तो कम से कम 6 से 8 महीने लग जाएंगे। आयोग ने भर्ती से पहले वन टाइम रजिस्ट्रेशन व्यवस्था लागू की है। रजिस्ट्रेशन करा लेने के बाद कैंडिडेट्स को बार-बार अपने प्रमाण पत्र आवेदन के साथ जमा नहीं करने होंगे। एक बार रजिस्ट्रेशन में अब 540454 कैंडिडेट्स ने फॉर्म भरा है। इसमें से 106323 का वेरिफिकेशन हो चुका है।

यूपीएसएसएससी अध्यक्ष प्रवीर कुमार के मुताबिक कोरोना के चलते काम प्रभावित हुआ है। इसके बाद भी आयोग अपना काम कर रहा है। प्रारंभिक अर्हता परीक्षा के बाद नई भर्तियों का काम शुरू होगा। आपको बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर सभी विभागों ने समूह ग के खाली पदों का ब्यौरा अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को भेज रखा है। सरकारी नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं को इन भर्तियों के लिए विज्ञापन निकलने का इंतजार है। आयोग ने इसके लिए तैयारियां शुरू भी कर दी थीं।

बढ़ते कोरोना संक्रमण के कारण आयोग के ही कई कर्मचारी इसकी चपेट में आ गए थे। इसके कारण भी काम प्रभावित हुआ है। भर्ती प्रक्रिया को पारदर्शी तरीके से करने के लिए पहली बार प्रारंभिक अर्हता परीक्षा का पाठ्यक्रम भी जारी कर दिया गया था, लेकिन अप्रैल में कोरोना संक्रमण के पीक पर पहुंच जाने की वजह से भर्ती प्रक्रिया शुरू नहीं हो पाई।




.