योगी आदित्यनाथ ने कहा, इस साल कक्षा 10 और कक्षा 12 के लिए नहीं जारी होगा मेरिट लिस्ट

UP Board Exam 2021: उत्तर प्रदेश में कक्षा 10 और कक्षा 12 की यूपी बोर्ड परीक्षा 2021 को राज्य सरकार द्वारा रद्द कर दिया गया था। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को एक मीटिंग में कहा कि इस साल कोई मेरिट लिस्ट नहीं घोषित की जाएगी। इसके अलावा जो छात्र अपने रिजल्ट से संतुष्ट नहीं हैं, उन्हें अंक सुधारने के लिए UP Board Exam 2021 में बैठने का अवसर दिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश सेकेंडरी एजुकेशन डिपार्टमेंट के एक अधिकारी के अनुसार जब अगले साल कक्षा 10 और कक्षा 12 की परीक्षाएं होंगी तो बोर्ड द्वारा छात्रों को फिर से परीक्षा में बैठने की अनुमति दी जाएगी। वर्तमान में UP Board Exam 2021 के अंक पिछली कक्षा और प्री बोर्ड परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर दिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UPMSP) ने अभिभावकों, टीचर्स, एजुकेशनिस्ट और जनरल पब्लिक से इस संबंध में करीब 4000 सुझाव प्राप्त किए। यूपी बोर्ड परीक्षा 2021 के इवेल्यूएशन क्राइटेरिया के लिए इनमें से कुछ सुझावों पर विचार भी किया गया है। कक्षा 10 और कक्षा 12 यूपी बोर्ड परीक्षा 2021 के लिए लगभग 56 लाख छात्रों ने रजिस्टर किया था।

बता दें कि कक्षा 10 के 40 विषय और कक्षा 12 के 106 पेपर का इवेल्यूएशन क्राइटेरिया निर्धारित करने के लिए सेकेंडरी एजुकेशन के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी आराधना शुक्ला के तहत एक कमेटी का गठन किया गया है। रिपोर्ट के अनुसार, यूपी बोर्ड परीक्षा 2021 के इवेलुएशन क्राइटेरिया पर हो रहा विमर्श अपने अंतिम चरण पर है।

उम्मीद है कि कमेटी अपनी विस्तृत रिपोर्ट जल्द ही उत्तर प्रदेश सरकार को सौंपेगी। यूपी बोर्ड परीक्षा 2021 के इवेलुएशन क्राइटेरिया पर अंतिम निर्णय हायर लेवल द्वारा ही लिया जाएगा। यूपी बोर्ड परीक्षा 2021 से जुड़े लेटेस्ट अपडेट के लिए छात्र यूपी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर चेक करते रहें।




.