10वीं की बोर्ड परीक्षा रद्द, 12वीं पर दो दिन बाद होगा निर्णय

Board Exam 2021: गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने 23 मई को कहा कि गोवा सरकार ने कोरोना के प्रकोप को देखते हुए राज्य में दसवीं कक्षा की परीक्षा रद्द कर दी है और अगले दो दिनों में बारहवीं कक्षा की परीक्षा पर निर्णय लिया जाएगा। गोवा बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एंड हायर सेकेंडरी स्कूल एजुकेशन और शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ-साथ विशेषज्ञों की एक समिति की सिफारिश पर निर्णय लिया गया है, और वर्ष 2020-21 की दसवीं कक्षा के अंक अकादमिक में आयोजित परीक्षाओं के आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर आवंटित किए जाएंगे।

एक या दो विषयों में फेल होने वाले एटीकेटी (अलाउड टू कीप टर्म्स) परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। जो लोग साइंस और डिप्लोमा स्ट्रीम का विकल्प चुनना चाहते हैं, उन्हें एक वन डे एग्जाम से गुजरना होगा, जो गोवा बोर्ड द्वारा आयोजित की जाएगी।

छात्रों को इस वन डे एग्जाम के बारे में 15 दिन पहले सूचित किया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘प्राइवेट छात्रों को एक दिवसीय या तीन दिवसीय परीक्षा से गुजरना होगा, जिसकी तारीखों की घोषणा बाद में की जाएगी। मंगलवार या बुधवार को बारहवीं कक्षा की परीक्षा पर फैसला लिया जाएगा।

वहीं केंद्रीय मंत्री ने CBSE Board Class 12 Exam 2021 के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए बैठक थी। इस मीटिंग में चार केंद्रीय मंत्रियों, राज्य के शिक्षा मंत्रियों और शिक्षा मंत्रालयों के सचिवों ने भाग लिया। यह बैठक कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षा और प्रवेश परीक्षों को आयोजित करने को लेकर थी। इस बैठक की अध्यक्षता रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने की, शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’, केंद्रीय महिला एवं बाल मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी और केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर भाग लिया।

सीबीएसई कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षा की तारीख की घोषणा शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ द्वारा 1 जून को की जाएगी। केंद्र सरकार जहां 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा आयोजित करने के लिए इच्छुक है, वहीं उसने राज्य सरकारों को अपने स्कूल बोर्ड पर फैसला करने के लिए छोड़ दिया है।




.