10वीं के रिजल्ट 20 जून को होंगे जारी, ऐसे तैयार होगा स्कोर कार्ड

CBSE tenth Result 2021: कोरोना महामारी के कारण इस CBSE Class 10 की बोर्ड परीक्षा रद्द कर दी गई थी, शनिवार को केंद्रीय विद्यालय शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने अपने संबद्ध स्कूलों में कक्षा 10 के छात्रों के लिए एक स्पेशल मार्किंग स्कीम की घोषणा की है।

CBSE द्वारा 20 जून तक घोषित किए जाने वाले परिणाम – यूनिट टेस्ट, अर्धवार्षिक परीक्षा में छात्रों के प्रदर्शन और स्कूलों द्वारा आयोजित प्री-बोर्ड परीक्षा के आधार पर जारी किए जाएंगे। जबकि यूनिट टेस्ट 10 अंकों का होगा, मिड-टर्म एग्जाम 30 अंकों की होगी, और प्री-बोर्ड परीक्षा 40 अंकों की होगी, जिसमें कुल 80 अंक होंगे। CBSE की मौजूदा नीति के अनुसार शेष 20 अंक, स्कूलों द्वारा किए गए इंटरनल असेस्मेंट के लिए होंगे।

बोर्ड ने कहा कि तीन श्रेणियां – यूनिट टेस्ट, मिड-टर्म एग्जाम और प्री-बोर्ड परीक्षा – अधिकांश सीबीएसई-संबद्ध स्कूलों के लिए कॉमन हैं और इसलिए स्पेशल मार्किंग स्कीम को डिफाइन करने के लिए इनका उपयोग किया गया है।

सभी सीबीएसई स्कूलों को परिणाम को सारणीबद्ध करने के लिए प्रिंसिपल और सात शिक्षकों से मिलकर एक इंटरनल रिजल्ट कमेटी बनाने के लिए निर्देशित किया गया है। स्कूलों को 25 मई तक परिणामों को अंतिम रूप देने और उन्हें 5 जून तक बोर्ड को प्रस्तुत करने के लिए कहा गया है। इंटरनल असेस्मेंट के अंक (20 में से) 11 जून तक जमा करने होंगे। सीबीएसई 20 जून तक कक्षा 10 के परिणाम घोषित करेगा। देश में कोरोना संक्रमण की बढ़ती चिंताओं के बीच केंद्र सरकार ने 10 वीं कक्षा की परीक्षा रद्द करने के दो सप्ताह बाद स्पेशल मार्किंग स्कीम की घोषणा की।

दूसरी ओर Class 12 Board exams की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं और शिक्षा मंत्रालय 1 जून को स्थिति की समीक्षा करेगा ताकि नई तारीखों का फैसला किया जा सके और परीक्षा शुरू होने से कम से कम दो सप्ताह पहले एक घोषणा की जा सके।




.