10वीं 12वीं के बोर्ड एग्जाम को लेकर इस तारीख को हो सकता है फैसला

UP Board Exam 2021: उत्तर प्रदेश में परीक्षा को लेकर छात्रों कि दुविधा बरकरार है। परीक्षा स्थगित होगी या रद्द अभी इसका अनुमान लगा पाना मुश्किल है। मीडिया रिपोर्ट के अुसार प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा है कि राज्य सरकार 20 मई के बाद यूपी बोर्ड और विश्वविद्यालय / डिग्री कॉलेज की परीक्षाओं पर निर्णय लेगा। उन्होंने कहा, “अधिकारियों के साथ बैठक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के परामर्श से निर्णय लिया जाएगा। ”

कोरोना की स्थिति को देखते हुए और छात्रों के हित को ध्यान में रखते हुए, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने कक्षा 10 की परीक्षा रद्द कर दी थी और कक्षा 12 की परीक्षा को स्थगित कर दिया था। काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन ( CISE) ने भी कक्षा 10 की परीक्षाओं को स्थगित करने के अपने पिछले फैसले को वापस ले लिया था और फिर परीक्षा रद्द करने का फैसला लिया था। हालांकि, कक्षा 12 आईएससी परीक्षा बाद में आयोजित की जाएगी।

यूपी सरकार ने 15 अप्रैल को यूपी बोर्ड के कक्षा 10 और कक्षा 12 परीक्षा स्थगित करने का फैसला किया था। हालांकि, राज्य में पंचायत चुनावों और कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए परीक्षा कि तारीख को फिर से बदलने का निर्णय लिया गया।

बोर्ड पहले ही कोरोना के चलते पढ़ाई के नुकसान की भरपाई के लिए सिलेबस 30 प्रतिशत तक कम कर चुका है। जो छात्र परीक्षा में शामिल होने वाले हैं वे केवल घटे हुए सिलेबस के आधार पर ही अपनी तैयारी करें। नया सिलेबस आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किया जा चुका है।

यूपी बोर्ड परीक्षा में शामिल होने के लिए लगभग 56 लाख छात्र रजिस्टर्ड हैं। हाईस्कूल परीक्षा के लिए 29,94,312 छात्र रजिस्टर्ड हैं, जिसमे 16,74,022 लड़के और 13,20,290 लड़कियां हैं। इसी तरह इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए 26,09,501 छात्र रजिस्टर्ड हैं, जिसमे 14,73,771 लड़के और 11,35,730 लड़कियों शामिल हैं।




.