20 तरह की भर्तियों के लिए होगी एक ही परीक्षा, इस आधार पर की जाएगी भर्ती

राजस्‍थान में अब गैर तकनीकी (Non techinical) पदों पर भर्ती के लिए अलग-अलग परीक्षा की जगह पर एक ही समान पात्रता परीक्षा (CET) देनी होगी। इस संबंध में कार्मिक विभाग ने आदेश भी जारी कर दिया है। इसके आधार पर 20 तरह की भर्तियां हो सकेंगी। यह टेस्ट ग्रेजुएट और 12वीं पास के लिए अलग-अलग भर्तियों के रास्ते खोलेगा। आदेश में कहा गया है कि अधीनस्थ एवं मंत्रालयिक सेवाओं के गैर तकनीकी पदों के लिए इस टेस्ट को क्लीयर करना अनिवार्य होगा। इस पात्रता परीक्षा में मिले अंकों के आधार पर ही नियुक्ति दी जाएगी।

इस संबंध में बेरोजगार संगठन लंबे समय से सरकार से इसकी मांग कर रहे थे। अब समान पात्रता परीक्षा का आयोजन आरएसएसबी की ओर से किया जाएगा। आदेश के अनुसार यह परीक्षा एक चरणीय बहुविकल्पीय प्रश्नपत्र पर आधारित होगी। परीक्षा में अर्जित अंकों की वैधता अवधि 3 वर्ष तक रहेगी। इस परीक्षा में बैठने के लिए अवसरों की कोई सीमा नहीं होगी। आयु संबंधी और अन्य पात्रता के आधार पर कोई भी अभ्यर्थी भाग ले सकता है।

इन भर्तियों के लिए होगा CET
ग्रेजुएट हैं तो ये नौकरी: जूनियर अकाउंटेंट, टीआरए, टेक्स असिस्टेंट, डिस्ट्रिक्ट इंडस्ट्रीज ऑफिसर, मैनेजर इंडस्ट्रीयल एस्टेट, इंडस्ट्रीज इंस्पेक्टर, सुपरवाइजर, कॉर्डिनेंटर ट्रेनिंग, कॉर्डिनेंटर सुपरवाइजर, डिप्टी जेलर, असिस्टेंट जेलर, पटवारी, विलेज डवलपमेंट ऑफिसर, हॉस्टल सुपरिडेंट ग्रेड सेकेंड की नौकरी के लिए परीक्षा दे सकते हैं।
सीनियर सेकंडरी पास के लिए ये: लैबोरेट्री इंचार्ज, फॉरेस्टर, हॉस्टल सुपरिडेंट, क्लर्क ग्रेड सेकेंड (RPSC, सचिवालय), जूनियर असिसटेंट, पंचायत राज में एलडीसी, जमादार ग्रेड सेकेंड।

इस परीक्षा का आयोजन राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से किया जाएगा। सामान्यत: हर साल यह परीक्षा आयोजित होगी। ऑब्जेक्टिव प्रश्नपत्र के आधार पर होने वाली इस परीक्षा में एक ही चरण होगा। समान पात्रता परीक्षा के लिए राजस्थान प्रशासनिक सेवा के एक अधिकारी को समन्वयक बनाया जाएगा।

.