REET Exam 2021: अब ये कैंडिडेट्स भी दे सकते हैं रीट, पढ़िए पूरी डिटेल्स

उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि बीएड फाइलन ईयर में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (आरईईटी) में बैठने के लिए योग्य माना जाएगा। मंत्री ने कहा कि बीएड एकीकृत पाठ्यक्रम के छात्रों को परीक्षा में बैठने के लिए किसी भी बाधा का सामना नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने बताया कि माध्यमिक शिक्षा निदेशालय राजस्थान ने इंटर्नशिप के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि रीट को ध्यान में रखते हुए बीएड इंटीग्रेटिड कोर्सेज की परीक्षाएं कराई जाएंगी। उन्होंने कहा कि राज्य के विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं कोविड प्रोटोकॉल के अनुपालन के साथ आयोजित की जाएंगी।

बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन, राजस्थान द्वारा राज्य के स्कूलों में प्राइमरी और अपर प्राइमरी के शिक्षकों की नियुक्ति के लिए राजस्थान टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (REET) आयोजित किया जाता है। राजस्थान में शिक्षक पद पर भर्ती के लिए इच्छुक उम्मीदवारों को यह परीक्षा पास करना अनिवार्य होता है। इस साल रीट परीक्षा 26 सितंबर को आयोजित की जाएगी। इसके लिए एडमिट कार्ड परीक्षा के 4 दिन पहले जारी किया जाएगा, जिसे उम्मीदवार बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड कर सकेंगे। परीक्षा के लिए बोर्ड ने हाल ही में ईडब्ल्यूएस कैटेगरी के उम्मीदवारों के लिए आवेदन प्रक्रिया समाप्त की है।

REET 2021 पैटर्न: प्रत्येक पेपर में 1-1 नंबर के 150 सवाल होते हैं। उम्मीदवारों को प्रत्येक पेपर के लिए परीक्षण पूरा करने के लिए 2.5 घंटे की अवधि की अनुमति है। पेपर 1 में प्रत्येक विषय से लगभग 30 सावल पूछे जाते हैं जबकि पेपर 2 में प्रत्येक सामान्य विषय से 30 सवाल पूछे जाते हैं जबकि वैकल्पिक गणित और विज्ञान / सामाजिक विज्ञान विषय से 60 सवाल पूछे जाते हैं।

REET में दो पेपर होते हैं, पेपर 1 को पास करने वाले अभ्यर्थी कक्षा 1 से 5 में पढ़ाने के पात्र होंगे, जबकि पेपर 2 को साफ करने वाले कक्षा 6 से 8 में पढ़ सकते हैं। क्वालिफाइंग मार्क्स 60 प्रतिशत है, जबकि आरक्षित कैटेगरी के उम्मीदवारों के लिए पासिंग मार्क्स 36 प्रतिशत है। सफल उम्मीदवारों को एक प्रमाण पत्र मिलेगा।





.